उत्तराखंड के बेटे और बेटी ने नेपाल में जीता स्वर्ण और रजत पदक




अब अगला लक्ष्य, जापान में दिखाएंगे अपना दम ख़म

स्वर्ण पदक विजेता कृष्णा पँवार और रजत पदक विजेता आयुषी पेटवाल

रिपोर्ट : डॉली बिष्ट

देहरादून: नेपाल काठमांडु में आयोजित पहली साउथ एशियन सोतोकॉन कराटे चैंपियनशिप में उत्तराखंड के दो होनहारों ने अपने दम ख़म से स्वर्ण और रजत पदक जीतकर उत्तराखंड का नाम गर्व से ऊँचा किया है।

भिभिन्न देशों से आये कराटे कोच और खिलाड़ी चैंपियनशिप में प्रतिभाग करते हुए                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                  बीते 2 और 3 जून को सम्पन्न हुई इस दो दिवसीय चैंपियनशिप में उत्तराखंड के कृष्णा पँवार ने 80 कि.ग्र भारवर्ग में स्वर्ण पदक और आयुषी पेटवाल ने 35 कि. ग्र भारवर्ग में रजत पदक हाशिल किया हैं। गौरतलब है कि इस चैंपियनशिप में भारत, नेपाल, भूटान, बांग्लादेश और जापान आदि देशों के खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था जिन्हें पछाड़ कर उत्तराखंड के इन दोनों युवाओं ने अपनी इस खेल कला में उतुंगता का परिचय दिया। “सोतोकॉन कराट डू” एसोसिएशन के अध्य्क्ष संजय थापा ने इस चैंपियनशिप के बारे में जानकारी दी कि भारत से केवल इन दो ही खिलाड़ियों को इस चैंपियनशिप में शामिल किया गया था, और इन दोनों ही खिलाड़ियों ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन से पदक हाशिल किये साथ ही संजय थापा ने इन दोनो खिलाड़ियों के उत्कृष्ट प्रदर्शन का श्रेय इनकी कराटे कोच सुप्रिया नेगी को दिया जिनके द्वारा दी गयी ट्रेनिंग के बल पर ही यह सम्भव हो पाया है साथ ही संजय ने यह भी बताया कि इन दोनों युवा खिलाड़ियों का जापान में होने वाली अंतरराष्ट्रीय कराटे चैंपियनशिप के लिए भी चयन हुआ है जिसके लिए इनकी ट्रेनिंग की पूरी जिम्मेदारी उनकी कोच सुप्रिया नेगी को दी गयी है । संजय ने बताया कि नेपाल में ‘सोतोकॉन कराटे डू फेडरेशन ऑफ नेपाल‘, ‘विश्व कराटे डू फेडरेशन ऑफ जापान‘ से मान्यता प्राप्त है।
कोच सुप्रिया नेगी के साथ दोनों पदक विजेता खिलाड़ी

 



 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *