अमित शाह के गृहमंत्री बनने के तुरंत बाद जम्मू-कश्मीर के सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों की लिस्ट तैयार की है। सुरक्षा बलों के मुताबिक फिलहाल कश्मीर घाटी में 287 आतंकवादी सक्रिय हैं, जिनमें से टॉप 10 आतंकवादियों की लिस्ट तैयार की गई है। सुरक्षाबलों का कहना है कि जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा शुरू होने से पहले टॉप 10 आतंकवादियों का सफाया कर दिया जाएगा। इससे पहले भी सुरक्षाबलों ने पिछले पांच महीनों में 101 आतंकियों का सफाया किया है और अब बारी इन 10 आतंकवादियों की है।
                अमित शाह के गृहमंत्री बनने के तुरंत बाद जम्मू-कश्मीर के सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकवादियों की लिस्ट तैयार की है। सुरक्षा बलों के मुताबिक फिलहाल कश्मीर घाटी में 287 आतंकवादी सक्रिय हैं, जिनमें से टॉप 10 आतंकवादियों की लिस्ट तैयार की गई है। सुरक्षाबलों का कहना है कि जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ यात्रा शुरू होने से पहले टॉप 10 आतंकवादियों का सफाया कर दिया जाएगा। इससे पहले भी सुरक्षाबलों ने पिछले पांच महीनों में 101 आतंकियों का सफाया किया है और अब बारी इन 10 आतंकवादियों की है।

 

1. रियाज नाइकू उर्फ मोहम्मद बिन कासिम
              ये जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा का रहने वाला है. 2010 से आतंकी गतिविधियों में सक्रिय है। हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े इस आतंकवादी को A++ श्रेणी का आंतकी बताया गया है। येअब तक के सक्रिय आतंकवादियों में सबसे खतरनाक है।

2. वसीम अहमद उर्फ ओसामा
           वसीम अहदम सोपियां का रहने वाला है। इसका जुड़ाव खूंखार आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा से है। ये लश्कर का सोपियां का डिस्ट्रिक्ट कमांडर है।

3. मोहम्मद अशरफ खान उर्फ अशरफ मौलवी
           मोहम्मद अशरफ आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़ा है। ये अनंतनाग के इलाके में सक्रिय है। टॉप 10 मोस्टवांटेड की लिस्ट में ये तीसरे नंबर पर है।

4. मेहराजुद्दीन
           मेहराजुद्दीन भी हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़ा हुआ है। यह आतंकी बारामुला में हिजबुल मुजाहिदीन का डिस्ट्रिक्ट कमांडर है।

5. डॉ. सैफुल्ला उर्फ सैफुल्ला मीर उर्फ डॉ सैफ 
           डॉ. सैफुल्ला भी हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़ा है। ये श्रीनगर में हिजबुल मुजाहिदीन का नया कैडर बनाने में लगा हुआ है।

6. अरशिद-उल-हक
            ये भी हिजबुल मुजाहिदीन का ही आतंकी है। इसे भी A++ कैटेगरी में रखा गया है। ये हिजबुल का पुलवामा जिले का डिस्ट्रिक्ट कमांडर है।

7. हाफ़िज़ उमर
           हाफ़िज़ रहने वाला पाकिस्तान का है। जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठन से जुड़ा है। कश्मीर में बालाकोट कैम्प से ट्रेनिंग लेने के बाद ये भारत में घुसा था। फिलहाल यह आतंकी जैश का चीफ ऑपरेशनल कमांडर है।

8. जाहिद शेख उर्फ उमेर अफगानी
          जाहिद जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी है। इसने तालिबानी से ट्रेनिंग लेने के बाद कश्मीर में घुसपैठ की है। ये अफगानिस्तान में नाटो फोर्सेज के साथ लड़ाई लड़ चुका है।

9. जावेद एएच मट्टू उर्फ फैसल उर्फ शाकिब उर्फ मुसैब
         ये आतंकी अल बदर से जुड़ा हुआ है। यह नार्थ कश्मीर में अल बदर का डिविजनल कमांडर है, जिसे सुरक्षा एजेंसियां तलाश रही हैं।

10. एजाज अहमद मलिक 
        यह आतंकी भी हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़ा हुआ है। फिलहाल ये कुपवाड़ा में हिजबुल मुजाहिदीन का डिस्ट्रिक्ट कमांडर है।

फिलहाल कश्मीर घाटी में सक्रिय हैं 287 आतंकवादी 
 सुरक्षाबलों के मुताबिक फिलहाल कश्मीर घाटी में कुल 287 आतंकवादी सक्रिय हैं। इनमें से 109 आतंकी पाकिस्तानी हैं, जबकि 178 आतंकी कश्मीर के ही रहने वाले हैं। विदेशी आतंकवादियों में सबसे ज्यादा लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी हैं, जिनकी संख्या 80 है। लश्कर के 51 आतंकवादी कश्मीर के हैं और अलग-अलग जगहों पर काम कर रहे हैं। इसके अलावा जैश-ए-मोहम्मद के 21 पाकिस्तानी आतंकी और 13 लोकल आतंकी जम्मू-कश्मीर में सक्रिय हैं। सुरक्षाबलों के सूत्रों के मुताबिक सबसे ज्यादा लोकल आतंकवादी हिजबुल मुजाहिदीन के हैं और इनकी संख्या103 हैं।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.