देहरादून –  विश्व प्रसिद्ध खतरों के खिलाडी बेयर ग्रिल्ल्स के साथ दून की जुड़वा बेटियां ताशी और नुन्ग्सी मालिक ने भी खतरों से लड़ने का फैसला लिया है। फिजी आईलेंड में 9 से 21 सितम्बर के बीच होने जा रही 675 किलोमीटर की इस ख़ास रेस के लिए इंडिया की जुड़वा बहनों के अलावा प्रवीण रांगड़ का भी चयन हुआ है।
           इन दो जुड़वा बहनों के पिता और टीम के असिस्टेंट कर्नल वीरेंद्र सिंह मलिक ने बताया की इस रेस में 30 देशों की 60 टीमें हिस्सा लेने जा रही हैं। पहली बार दक्षिण एशिया और भारत से किसी का चयन हुआ है। ताशी नुन्ग्सी को बेयर ग्रिल ने खुद ही बुलाया है। बेयर ग्रिल्ल्स की यह रेस प्राइम विडियो पर 10 एपिसोड में दिखाई जायेगी।

12 दिन.रात तक लगातार दौड़ने की चुनौती दी गयी है

         इस रेस में सभी को 12 खतरनाक एडवेंचर का सामना करना पड़ेगा। इसमें दौड़ने के साथ.साथ क्लाईम्बिंगए ट्रेकिंगए समुद्र में तैरना भी शामिल है। इसके लिए ताशी नुन्ग्सी को गोवा के समुद्र तथा जंगलों में 2 महीने का एक पूर्ण रूप प्रशिक्षण भी दिया गया है ।

अब तक सात चोटियों पर फ़तह कर चुकी है ये दो जुड़वा बहनें

 देहरादून के जोह्डी गाँव की निवासी मलिक परिवार की ये दो जुडवा बहनें दुनिया की सात चोटियों पर चढाई कर चुकी हैं। इसके अलावा साउथ पोल तथा नार्थ पोल पर भी ये तिरंगा लहरा चुकी हैं। यह कारनामा करने वाली पहली जुड़वा बहनें हैं। ताशी नुन्ग्सी इनका नाम गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज किया गया है ।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.