देखिए और जानिए की कौन आया पहले मुर्गी या अंडा

सवालों में एक सबसे बड़ा सवाल जिसे सुनकर हर कोई हो जाता है परेशान कि कौन आया पहले मुर्गी या अंडा यह सवाल दिखता तो सरल है लेकिन है बहुत टेढ़ा है इसीलिए इस सवाल पर माथापच्ची करने की ज़रुरत नहीं है, क्योंकि वैज्ञानिकों ने इस सवाल का जवाब ढूंढ निकाला है. कहा जा सकता है कि आखिरकार सालों से उलझी हुई यह पहेली सुलझ ही गई है. चलो जानते है कि पहले मुर्गी आई या अंडा?
शेफील्ड और वारविक यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इस सवाल का जवाब ढूंढ लिया है कि पहले मुर्गी आई या अंडा? ये एक ऐसा सवाल था जिसे दुनियाभर के लोग न जाने कितने वर्षों से जूझ रहे हैं, मगर इसका जवाब नहीं ढूंढ पाए.इस सवाल का हल खोजने का दावा करने वाले वैज्ञानिकों का कहना है कि सबसे पहले मुर्गी आई थी. उन्होंने एक रिसर्च के आधार पर कहा है कि, धरती पर पहले मुर्गी का जन्म हुआ था. इन वैज्ञानिकों के अनुसार, मुर्गी के जन्म के बाद मुर्गी के गर्भाशय में ओवोक्लाइडिन 17 नामक प्रोटीन से अंडे के खोल का निर्माण शुरू होता है.इसी प्रोटीन के निर्माण के बाद अंडा बनता है यानीं बिना इसके अंडे का निर्माण होना मुश्किल है. यह प्रोटीन सिर्फ मुर्गी के गर्भाशय में ही बन पाता है, जिसके अलावा मुर्गी के शरीर के किसी भाग में भी इसका मिलना असंभव पाया गया है.इस खोज के मुख्य वैज्ञानिक डॉक्टर कोलीन फ्रीमैन का कहना है कि, इसे साबित करने के लिए वैज्ञानिकों के पास सबूत भी हैं. दरअसल अंडे के खोल को टेस्ट करने पर यह बात सामने आई है कि मुर्गियों की ओवरी से प्रोटीन पैदा होता है जिसके कारण अंडा बनता है. वैज्ञानिकों ने जब कंप्यूटर हेक्टर की मदद से अंडे के खोल की जांच की तो उन्होंने पाया कि यह खोल उसी ओवोक्लाइडिन 17 प्रोटीन से बना है जो केवल मुर्गी की ओवरी में ही पाया जाता है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

पत्रकार चिकित्सा प्रतिपूर्ति योजना जल्द ही होगी कैशलेस 

Thu Aug 3 , 2017
देहरादून/ मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा की मीडिया तथा जनता तक सरकारी सूचनाओं का प्रचार-प्रसार तीव्रता तथा पारदर्शिता के साथ होना चाहिए। उन्होंने मीडिया से बेहतर समन्वय पर बल दिया। उन्होंने कहा कि विभाग वर्तमान समय के अनुसार आधुनिक तकनीक तथा सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग कर सूचनाओं के आदान-प्रदान में […]
%d bloggers like this: