Ribbon running out for India’s typing tradition

The end is coming, though admittedly it may not look that way at 10 am on a Tuesday morning, when dozens of young Indians have arrived for morning classes at Anand Type, Shorthand and Keypunch College, and every battered Remington is clattering away. Looking around the cramped classrooms, you might think that the typewriter still has…

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

किशोर के साथ पूरा सहसपुर।

Wed Jan 25 , 2017
किशोर के साथ पूरा सहसपुर। उत्तराखंड विधानसभा 2017 का चुनाव दो राष्ट्रीय पार्टियो, कांग्रेस और बीजेपी के नाक का सवाल बन गयी है। ऐसे में दोनों पार्टिया अपने अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है और प्रत्याशी भी पुरे दम-ख़म के साथ  चुनावी रण में उतर चुके है। ऐसे में […]
%d bloggers like this: