एनबीसीसी ने सरकार को 108 करोड़ रूपए का लाभांश चेक सौंपा

एनबीसीसी ने सरकार को 108 करोड़ रूपए का लाभांश चेक सौंपा

नई दिल्ली। राष्ट्रीय भवन निर्माण निगम (एनबीसीसी) गुरूवार को शहरी विकास मंत्री एम वैंकेया नायडू को 2015-2016 के लिए 108 करोड़ रुपये का लाभांश चेक सौंपा।
पिछले कुछ वर्षों से लगातार कारोबार बढ़ाने और मुनाफा कमाने के लिए एनबीसीसी की सराहना करते हुए श्री नायडू ने कंपनी प्रबंधन से राज्य सरकारों और अन्य एजेंसियों  के साथ साझेदारी बढ़ाकर अपने कारोबार का विस्तार  करने और इसमें विविधता लाने को कहा। उन्घ्होंने एनबीसीसी के गैर बैंकिंग वित्घ्तीय कंपनी स्घ्थापित करने की पहल का स्घ्वागत किया।
उन्होंने केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा हाल ही में मंजूर की गई लगभग 35,000 करोड़ रुपये के निवेश से दिल्घ्ली की सात पुनर्विकास परियोजनाओं पर तुरंत कार्रवाई करने का निर्देश भी दिया और एनबीसीसी की चल रही परियोजनाओं की प्रगति एवं उसके आगामी कदमों पर विस्घ्तार से चर्चा की।
एनबीसीसी के अध्घ्यक्ष और प्रबंधक निदेशक एके मित्घ्तल ने श्री नायडू को बताया कि कंपनी के विचाराधीन कई पहलों में से एक वित्घ्तीय कारोबार बढ़ाने के लिए गैर बैंकिंग वित्घ्तीय कंपनी (एनबीएफसी) शुरू करने के लिए कंपनी काफी उत्घ्सुक है। उन्घ्होंने कहा कि कंपनी को 2015-16 के दौरान 17,516 करोड़ रुपये की नई परियोजनाओं के आदेश प्राप्घ्त हुए हैं। कंपनी ने 2015-16 के लिए कुल 120 करोड़ रुपये के लाभांश की घोषणा की है।
मित्घ्तल ने कहा कि घ्एनबीसीसी ने 2015-16 के दौरान 5,838 करोड़ रुपये का सबसे अधिक राजस्घ्व हासिल किया है, जो पिछले वित्घ्त वर्ष की तुलना में 32 प्रतिशत अधिक है। पिछले वित्घ्त वर्ष के दौरान कर चुकाने के बाद कंपनी को 311 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ, जो 2014-15 के मुकाबले 12 प्रतिशत अधिक है। बाजार पूंजीकरण अप्रैल 2013 में 1,706 करोड़ रुपये से बढ़कर इस वर्ष अक्घ्टूबर में 16,836 करोड़ रुपये का हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *