विधानसभा अध्यक्ष कुंजवाल ने अपने क्षेत्र में बांट दिये सात करोड़ रूपयेः मुन्ना सिंह

0

विधानसभा अध्यक्ष कुंजवाल ने अपने क्षेत्र में बांट दिये सात करोड़ रूपयेः मुन्ना सिंह 

देहरादून,भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता मुन्ना सिंह चैहान ने बलबीर रोड स्थित प्रदेश कार्यालय में एक प्रेसकॉन्फ्रेंस कर बताया है कि विधानसभा अध्यक्ष गोविन्द सिंह कुंजवाल ने अपने विवेकाधीन कोष से अपने ही विधानसभा क्षेत्र के निवासियों को सात करोड़ रूपये बांटे है,जो विवेकाधीन कोष का दुरूपयोग है और साथ ही साथ रूपयों की बंदरबाँट हुई है।
पत्रकारों से रूबरू होते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि यह विधानसभा अध्यक्ष के सरकारी कोष से अपने मतदाताओं को आर्थिक लाभ देने का मामला है जो मतदाताओं को रिश्वत देने तथा लोक सेवक के भ्रष्टाचार का साफ मामला है । चैहान ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष ने पद लोक सेवकों के भ्रष्टाचार निरोध कानून से आच्छादित होता है जिससे वे कानूनी कार्यवाही के भी पात्र बनते है। उन्होने इसे संविधान के अनुच्छेद 14 समानता के अधिाकार का भी उल्लंघन बताया।साथ ही साथ चौहान जी ने इसे अपने पद की गरिमा से खिलवाड करने और मुख्यमंत्री का गुणगान करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि गैरसैण के विकास और उत्तराखंड को राज्य निर्माण को बलिदान देने वालो के सपने का उत्तराखंड बनाने की बात करते हैं और दूसरी ओर सरकारी संसाधानों से अपने निजी स्वार्थ सिघ्द्ध कर रहे है।उनका कहना था कि यह कोष मूलतः विधाानसभा अधयक्ष की गरिमा की रक्षा केलिए है ताकि यदि उनके सामने कोई जरूरतमंद आ जाये तो आर्थिक सहायता के लिये उनके सामने मुख्यमंत्री या मंत्रियों को सिफारिश करने की मजबूरी पैदा न हो । लेकिन कुंजवाल ने सारी नैतिक मर्यादाओं को ताक पर रखकर मनमानेपन का परिचय दिया जैसे सारे जरूरतमंद केवल उन्ही के चुनाव क्षेत्र में निवास करते हैं और अपने चुनाव क्षेत्र से बाहर निकलते ही उनका विवेक बंद हो जाता है। उनका कहना है कि सूचना के जनाधिकार से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर आरोप लगाया है कि उन्होने चार साल में 35251 जनों को सात करोड 80 लाख रूपये अपने विवेकाधाीन कोष से बांटकर जमकर बंदरबांट की है। इस अवसर पर पत्रकार वार्ता में पार्टी प्रवक्ता विनय गोयल आदि मौजूद थे।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.