सेहत के लिए अच्छी होती है शादी!

अक्सर आपने देखा होगा कि आज की युवा पीढ़ी प्यार-मोहब्बत तो करती है लेकिन शादी के बंधन में बंधना नहीं चाहती। फिर चाहे लड़का हो या लड़की, हमेशा अपने माता पिता को शादी नहीं करने के ढेरों कारण बताते रहते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं शादी आपकी सेहत के लिए अच्छी है। ये हम नहीं बल्कि एक रिसर्च कह रही है। इस रिसर्च के मुताबिक अगर आपको हाई कलेस्ट्रॉल जैसे कारणों से दिल का दौरा पड़ने का खतरे है तो शादी की वजह से आपके जीवित रहने की संभावना बढ़ जाती है।
बढ़ जाती है जान बचने की उम्मीद
ब्रिटेन में करीब 10 लाख अडल्ट्स पर किए गए एक शोध के आधार पर शोधकर्ताओं ने बताया कि एक प्यार करने वाला पार्टनर आपको अपनी देखभाल बेहतर तरीके से करने को प्रेरित करता है। शोध करने वाले ऐस्टन मेडिकल स्कूल के डॉक्टर पॉल कार्टर और उनके सहकर्मियों ने बताया कि शादी से दिल का दौरा पड़ने पर जान बचने की उम्मीद बढ़ जाती है। ब्रिटिश कार्डियोवैस्क्यूलर सोसायटी के इस हालिया शोध में इसकी वजह भी बताई गई है।

सकारात्मक प्रभाव को समझना होगा!
डॉक्टर कार्टर कहते हैं, ‘हमें दिल की बीमारी के कारणों पर थोड़ा और अध्ययन करना होगा। लेकिन शोध में ये बात सामने आई है कि शादीशुदा जिंदगी न केवल दिल की बीमारी की हालत में बल्कि जिन लोगों में इसके जोखिम ज्यादा हैं उनमें भी मददगार साबित होती है। लेकिन हम ये नहीं कह रहे कि हर इंसान को शादी कर ही लेनी चाहिए। हमें शादी के सकारात्मक प्रभाव को समझने की जरूरत है।’
बचने की संभावना 16% अधिक
शोधकर्ताओं का अनुमान है कि दिल की बीमारी के लिए जिम्मेदार हाई कलेस्ट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर जैसे जोखिम की स्थिति में अगर मरीज शादीशुदा है तो उसका रिस्क कम हो जाता है। अध्ययन में दिल की बीमारी से मौत के साथ-साथ हर तरह की बीमारी से होनेवाली मृत्यु को शामिल किया गया था। शोध के नतीजों में बताया गया है कि हाई कलेस्ट्रॉल वाले 50, 60 और 70 की उम्र की महिलाओं और पुरुषों में शादीशुदा लोगों के बचने की संभावना 16 प्रतिशत तक ज्यादा होती है।

किसी खास शख्स की मौजूदगी जरूरी है!
ऐसी ही हालत डाइबीटीज और हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के मामले में भी पाया गया है। हालांकि सेक्सुअली ऐक्टिव, एक-दूसरे से अलग रह रहे पति-पत्नी, तलाकशुदा लोगों के मामले में यह तस्वीर उतनी साफ नहीं है। इसके अलावा शोधकर्ताओं ने इस बात की भी जांच नहीं की है कि शादीशुदा लोग वाकई खुशहाल हैं या नहीं। उनका कहना है कि सिर्फ शादीशुदा होने की बजाए आपकी जिंदगी में किसी खास शख्स की मौजूदगी से भी फर्क पड़ता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

इन्सेफेलाइटिस: बच्चों के लिए ज्यादा खतरा!

Wed Aug 30 , 2017
इन्सेफेलाइटिस को आम बोलचाल की भाषा में जापानी बुखार या मस्तिष्क ज्वर भी कहते हैं। यह एक प्रकार का दिमागी बुखार है जो वायरल संक्रमण के कारण होता है। यह खास किस्म का वायरस मच्छर या सूअर के द्वारा लोगों के बीच फैलता है। ज्यादा गंदगी वाली जगहों पर भी […]
%d bloggers like this: