गुरुवार के दिन मंदिर में कीर्तन करता है ये कुत्ता !

आप जानकर हैरान रह जायेंगें, जब पता चलेगा आपको कि गुरूवार के दिन ही  मंदिर में कीर्तन करता है ये कुत्ता।
जब भी इंसान किसी भी परेशानी या किसी भी समस्या में होता है, तब वो हमेंशा ईश्वर को याद करता है और ईश्वर से प्रार्थना करता है की हे ईश्वर आप उसको इस परेशानी से निकाल दे या कोई मार्ग दिखाए जिससे हमारी परेशानी कम हो जाए,. लोगो का इसमें पूरा विश्वास है की सच्चे मन से प्रार्थना करने से उनकी परेशानी ठीक हो जाती है.

हम इस बीच आपको ऐसी बात बताने जा रहे जिसे जानने में बाद आप भी दंग रह जायेंगें मामला कुछ ऐसा है, कि भजन-कीर्तन करना हिन्दू संस्कृति का महत्वपूर्ण हिस्सा है. देश के अनेकों मंदिरों में रोजाना भजन कीर्तन होते रहते हैं और यह परंपरा न जाने कब से चली आ रही है. लेकिन इस भजन कीर्तन में हिस्सा लेने वाले मनुष्य ही होते हैं, यह बात सभी जानते हैं. परन्तु हाल ही में भजन मण्डली के साथ सुर में सुर मिलाते एक कुत्ते को देखा गया है।
यह कुत्ता हर गुरूवार को मंदिर में होने वाले भजन कीर्तन में हिस्सा लेता है इतना ही नहीं, भजन करने वाले लोगों के साथ अपना सुर मिलाने की कोशिश भी करता है.
सफेद रंग का यह कुत्ता हर गुरूवार होने वाले कीर्तन में बिना चूके हिस्सा लेता है और फिर प्रसाद खाकर चला जाता है कहने की जरूरत नहीं, कुत्ते के इस दिल छू लेने वाले कार्य ने सोशल मीडिया पर लोगों को काफी प्रभावित कर दिया है।

यूजर ने फोटो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा ये छोटा भक्त कुत्ता मेरे दोस्त के कारखाने पर रहता है. हर गुरुवार शाम को बिना चूके वो बगल के मंदिर में चला जाता है और कीर्तन में शामिल होता है. वो प्रसाद खाता है और फिर वापस कारखाने पर लौट आता है पर लौट आता है

कही बार ऐसा होता हैं कि जो बात इंसान नहीं समझा पाते वो एक छोटा जानवर समझा देता है। इंसान को

%d bloggers like this: