डीएम ने अनुपस्थित बीएलओ का वेतन अग्रिम आदेशों तक रोकने के दिए निर्देश

डीएम ने अनुपस्थित बीएलओ का वेतन अग्रिम आदेशों तक रोकने के दिए निर्देश

 

देहरादून, जिलाधिकारी व जिला निर्वाचन अधिकारी रविनाथ रमन की अध्यक्षता में विधानसभा निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के सम्बन्ध में कैम्पस एम्बेसडर, नागरिक सुरक्षा वार्डन व इंटर कालेज के प्रधानाचार्यों के साथ बैठक जिला कार्यालय सभागार में सम्पन्न हुई।
जिलाधिकारी रविनाथ रमन ने निर्वाचन नामावली को पूर्ण संशोधित करने के उद्देश्य से निर्वाचन नामावली ड्यूटी में लगायी गयी आंगनबाड़ी कार्यकत्री व शिक्षक बीएलओ द्वारा निर्धारित स्थानों पर अनुपस्थित रहने की सूचना पर सख्त कार्रवाई करते हुए जिला परियोजना अधिकारी बाल विकास व जिला शिक्षा अधिकारी को इन सभी अनुपस्थित कर्मियों का वेतन जिला निर्वाचन अधिकारी के अग्रिम आदेशों तक रोकने निर्देश दिये। साथ चेतावनी दी कि अनुपस्थित 30 बीएलओ या तो अपने निर्धारित ड्यूटी स्थान पर उपस्थित हों अन्यथा निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुसार इनके विरूद्व एफआईआर दर्ज करायी जायेगी। श्री रमन ने बताया कि नये मतदाताओं को इस वर्ष चुनाव में बढ़चढ़ कर प्रतिभाग कराने तथा प्रोत्साहित करने के लिए सभी इण्टर काॅलेजों में कैम्पस अम्बेसडर चिन्हित किये गये हैं। ये कैम्पस अम्बेसडर अपने काॅलेज के सभी 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके छात्र-छात्राओं को मतदान करने के लिए प्रेरित करेंगे व चुनाव प्रक्रिया व वोटर लिस्ट सम्बंधि समस्याओं का निराकरण कराने में सहायता करेंगे। सभी क्षेत्रीय बीएलओ, राशन डीलरों, तहसीलों में मतदाताओं के लिए फार्म 6, 7, 8 उपलब्ध करा दिये गये हैं शेष रह गये स्थानों पर भी उक्त आवेदन फार्म उपलब्ध करा दिये जायेंगे। जिलाधिकारी ने जानकारी दी कि आगामी 7 व 14 तारीख को सभी बीएलओ अपने अपने क्षेत्रों में अभी तक तैयार निर्वाचक नामावाली को सामुहिक स्थलों पर मतदाताओं को पढ़ कर सुनायेंगे यदि किसी मतदाता को कोई आपत्ति होगी तो दिनांक 16 व 23 को आपत्तियां स्वीकार की जायेंगी व विभिन्न फार्मो के माध्यम से निर्वाचक नामावली में संशोधन किया जायेगा। यह आपत्ति व्यक्ति, परिवार, संगठन, संस्था या राजनैतिक दल कोई भी दर्ज करा सकता है। 10 जनवरी को अंतिम निर्वाचक सूची प्रकाशित कर दी जायेगी। जिलाधिकारी ने वलनरेबल एरिया में मतदाता तक स्वयं पहुंच बनाने के निर्देश ड्यूटी अधिकारियों को दिये। साथ ही तहसील परिसर में सुलभ केंद्र संचालित किये जायेंगे। इन केंद्रों पर आकर वोटर स्वयं भी काई शिकायत दर्ज करा सकता है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त अधिकारियों को प्रेरित करते हुए कहा कि चुनाव प्रकिया में लगे अधिकारी इस अनुभव को इन्जाॅय करें, क्योंकि सभी भारतीय त्यौहारों की तरह यह भी लोकतंत्र का सबसे बड़ा त्यौहार है।

%d bloggers like this: