देश में दलित राष्ट्रपति और चाय बेचने वाला है PM, यही है स्वतंत्रता: जेएस खेहर

FILE PHOTAGE SOURCE GOOGLE

प्रधान न्यायाधीश जस्टिस जेएस खेहर ने लोगों से धर्म और जाति से ऊपर उठकर खुद पर गर्व करने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि देश के राष्ट्रपति दलित हैं, उप राष्ट्रपति किसान रहे हैं और हमारे  प्रधानमंत्री कभी चाय बेचा करते थे। सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन में मंगलवार को आयोजित स्वतंत्रता दिवस समारोह में संबोधन के दौरान सीजेआई खेहर ने यह बात कही। चीफ जस्टिस (सीजेआई) ने खुलासा किया कि वह भारत के नागरिक के तौर पर देश में पैदा नहीं हुए थे। जन्म के समय वह केन्या के नागरिक थे। लेकिन भारतीय नागरिक बनने के बाद उन्हें समान अवसर और प्रतिष्ठा मिली और यही नागरिकता या स्वतंत्रता है। यही आशाओं, महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने की स्वतंत्रता है। सीजेआई खेहर ने कहा कि एक नागरिक होने के बाद आप किसी से न तो कम हैं न उससे ऊपर हैं।

%d bloggers like this: