बिना संसाधन कैसे होगा स्वच्छ भारत ?

 

बद्रीनाथ में कूडा उठाने का  वाहन तक नही

BADRINATH: स्वच्छ भारत मिशन भले ही बहुत बड़ा सरकारी अभियान हो,भले ही इस पर लाखो करोड़ो रूपये  खर्च किये जा रहे है। लेकिन जब जवाबदेय एजेंसियों के पास संसाधन ही नही होंगे तो फिर कैसे होगा “स्वच्छ भारत” यह बड़ा सवाल है।

उत्तराखंड में किस तरह यह मिशन कार्य कर रहा है इसकी हकीकत से हम आपको रूबरू करवा रहे है। बात करते है बिश्व प्रसिद्ध धाम बद्रीनाथ कि इस धाम की सफाई व्यवस्था नगर पंचायत बद्रीनाथ के हाथो है। छ माह में दस लाख से अधिक श्रद्धालु यहाँ पर आते है। हर दिन हजारो की संख्या में श्रीहरि के दर्शन करते है।जिस वजह से रोजाना छेत्र में गंदगी होना स्वाभाविक है लेकिन इस पंचायत के पास एक भी वाहन कूडा उठाने के लिए नही है।यही नही मात्र एक सफाईकर्मी ही इस पंचायत के पास है।कपाट खुलने के साथ ही बाहर से कुछ सफाई मित्र बुलाये जाते है जो कि अस्थाई होते है।जबकि इस पंचायत में सफाई कर्मियों के पांच पद स्वीकृत है लेकिन बर्तमान में एक ही पद भरा गया है।

नगर पंचायत बद्रीधाम के अधिशासी अधिकारी एस. पी. नोटियाल कहते है कि कूडा उठान वाहन के लिए कई बार पत्राचार किये गए लेकिन अभी स्वीकृति नही मिली है बिना वाहन के बहुत दिक्कते हो रही है।जहाँ तक सफाईकर्मियों की बात है ये सही है यहाँ पर स्थाई सिर्फ एक ही कर्मी की तैनाती है बाकी छ माह कि व्यवस्था के तहत लिए जाते है। लंबे समय से इनकी मांग रही है कि इनको स्थाई तैनाती बारह महीने की दी जाय।उच्च अधिकारियों को इनकी मांग से अवगत कराया जा चुका है जो भी निर्णय लिए जाएंगे उसी के तहत आगे का कार्य किया जाएगा। नगर पंचायत सलाहकार समिति के अध्यक्ष अरबिंद शर्मा कहते है की कई बार इस संबंध में बात की गई लेकिन कोई सकारात्मक कदम आगे बढ़ते नही दिखाई दिए।पंचायत पर दबाव भी पब्लिक का बहुत होता है,  आक्रोश का शिकार हमको होना पड़ता है।लेकिन लाचारी के सिवाय कुछ नही।एक तरफ स्वच्छ भारत अभियान के तहत करोड़ो रुपये खर्च किये जा रहे है वही दूसरी तरफ पर्याप्त संसाधन ही नही है। अब अंदाजा लगा सकते कि किस तरह से इस अभियान को सफल बनाया जा रहा है।

 

ख़बर श्रोत

वरिष्ट पत्रकार

चंद्र प्रकाश बुडाकोटी की फेसबुक वाल से

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Next Post

अब सोशल मीडिया से होगी टैक्स पर नज़र 

Mon Oct 2 , 2017
नई दिल्‍ली। टैक्‍स न चुकाने वालों पर सरकार ने अब शख्ती बढ़ा दी है। टैक्स चोरी रोकने के लिए सरकार ने मुहिम तेज कर दी है और दिग्गज कंपनी लारसन ऐंड टूब्रो इन्फोटेक (L & T) को सरकार ने सोशल मीडिया ऐनालिटिक्स के जरिए टैक्स नहीं चुकाने वालों का पता लगाने के लिए एक […]
%d bloggers like this: