किशोर के समर्थन में उतरी बोक्सा जनजाति

 भाजपा दल-बदलुओं और भाई भतीजावाद को बढ़ावा दे रही है।
निर्दलीय उम्मीद्वारों की प्रदेश की राजनीति में कोई भूमिका नहीं है।
उनकी भूमिका सिर्फ वोट काटने तक सीमीति है।
9 फरवरी देहरादून , ज्यों ज्यों मतदान का दिन नजदीक आ रहा है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और सहसपुर क्षेत्र से प्रत्याशी किशोर उपाध्याय के समर्थन में क्षेत्र के तमाम तबके आ गए हैं। आज बोक्सा जनजाति संघ के प्रदेश अध्यक्ष दर्शन लाल के अपने सैंकड़ो समर्थकों के साथ किशोर उपाध्याय के समर्थन में आने की घोषणा की। इसे कांग्रेस की बड़ी सफलता के रूप में देखा रहा है। दर्शन लाल नब्बे के दशक में सहसपुर क्षेत्र से विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं और उन्हें उस दौर में 13 हजार से ज्यादा बोक्सा जनजाति के लोगों के वोट प्राप्त हुए थे।  
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय सहसपुर क्षेत्र में पूरी ताकत से प्रचार में जुटे हैं। हर दिन किशोर उपाध्याय सैंकड़ों क्षेत्रवासियों से सीधे मुखातिब हो रहे हैं। आज किशोर ने चांदपुर, सोरना, कोटी, ढलानी और बहादुरपुर सहित कई स्थानों पर चुनावी रैलियों को संबोधित किया।
किशोर ने सहसपुर क्षेत्र में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए कहा कि चुनावों के बाद सहसपुर क्षेत्र में डिग्री कालेज, हास्पिटल, बालिकाओं के लिए विद्यालय खोलने की लंबे समय से चली आ रही मांग को वो पूरा करेंगे। सहसपुर क्षेत्र के हर वर्ग और हर हिस्से का विकास उनकी प्राथमिकता है। क्षेत्र में सड़क, बिजली, पानी, स्वास्थ्य और शिक्षा से जुड़ी तमाम समस्याओं को हल करना उनकी जिम्मेदारी होगी। 
राज्य में उपजे राजनीतिक हालातों की चर्चा करते हुए किशोर ने कहा कि राज्य में मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच है। निर्दलीय उम्मीद्वारों की प्रदेश की राजनीति में कोई भूमिका नहीं है। उनकी भूमिका सिर्फ वोट काटने तक सीमीति है। 
           किशोर उपाध्याय ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दल-बदलुओं और भाई भतीजावाद को उत्तराखंड में बढ़ावा दे रही है।  उन्होंने कहा कि सहसपुर क्षेत्र में उद्योगीकरण की गति को बढ़ावा देने का वायदा किया। साथ ही उन्होंने सहसपुर क्षेत्र में लगे उद्योगों स्थानीय युवाओं को रोजगार दिलाने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *