पिछले 24 घंटे में 434 की मौत, सामने आए 19,148 नए मरीज, 6 लाख के पार कोरोना पॉजिटिव के मामले

Advertisements
Loading...

पिछले 24 घंटे में 434 की मौत, सामने आए 19,148 नए मरीज, 6 लाख के पार कोरोना के मामले

सरकारी आँकड़ों की अगर बात करें तो देश में कोरोना अब तक 17 हज़ार 834 जाने ले चुका है और रोज के पॉजिटिव केस के आंकड़ों में भी वृद्धि दर किसी से छुपा नही है

Loading...

वहीं सरकारी आंकड़ों का दावा 3 लाख 59 हज़ार 859 मरीज रिकवर होकर घर लौट चुके हैं.

Loading...

देश में पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 19 हज़ार 148 नए केस सामने आए हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में 434 की मौत दर्ज हुई है. इसके साथ ही अब देश में कोरोना संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 6 लाख 4 हज़ार 641 हो गए हैं.

Loading...
Loading...

वहीं अगर रिकवर हुए मरीजों की बात करें तो देश में अबतक कुल 3 लाख 59 हज़ार 860 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं. जबकि अब तक देश में कुल मौतों का आंकड़ा 17 हज़ार 834 पर पहुंच गया है. इस हिसाब से रिकवरी रेट 59.51% है और नए मामलों में पॉजिटिविटी रेट 8.34% है.

Loading...
भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेज़ी से बढ़ रही है. आज यह आँकड़ा 6 लाख को पार कर चुका है वहीं रोजाना नये संक्रमण के बढ़ते मामले भी अपने चरम पर हैं. अनलॉक परिक्रिया में लोग कर रहे है लापरवाही आम दिनचर्या शुरू हो चुकी है लेकिन ग्लव्स, मास्क  सोशल डिसटेंसींग के पालन में चूक, लापरवाही हमारी जान ले सकती है ये जानते सब है फिर भी आपको रोज ही अपने इर्दगिर्द इसकी धज्जियाँ उड़ते दिख जाएंगी फिलहाल बेवज़ह या छोटे मोटे कामो के कारण घर से न निकले यदि वास्तविक कोई ज़रूरी काम आ पड़े तभी खुद के कदम बाहर रखे आपकी इक चूक आपके परिवार को भी ख़तरे में डाल सकती है जान है तो ज़हान है जैसा कि ये पहले ही न्यूज़ रिपोर्ट्स में बताया गया है कि जून और जुलाई में ही कोरोना अपने चरम पर होगा अनलॉक देश की आर्थिकी सुधारने के उद्देश्य से उठाया गया कदम है, शर्ते , नियमों का पालन करें एक छोटी सी लापरवाही भी जान ले सकती है खुद अनुमान लगाए कोरोना वायरस जब 50 मामले थे तो आपको लॉकडाउन , सोशल डिस्टनसिंग सिखाई गयी वहीं आज मौजूदा कोरोना संक्रमित सक्रिय मामले 6 लाख के पार है तो अपनी जान के खतरें का अंदाज़ा आप लगा सकते है 50 मामले में जो डर, खौफ था जिसके लिए आपको लॉकडाउन सोशल, डिस्टनसिंग सिखाई गयी उसका ध्यान रखे। ज़रूरी हो तो ही घर से निकले मौजूदा आँकड़े आगाह कर रहे है दो महीने और सही लेकिन फिलहाल बेवज़ह घर से निकलना जान जोख़िम में डालना है।
Digiprove sealCopyright secured by Digiprove © 2020 Press Mirchi
Loading...
All Rights Reserved

Loading...

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: