धोखा देने रुद्रपुर आ रहे सीएम: पासी

धोखा देने रुद्रपुर आ रहे सीएम: पासी

  • पोस्टिंग कलैक्शन के लिए करना

  • विधायक नवप्रभात एवं मंत्री यशपाल आर्या की हिस्सेदारी

  • पूर्व डीएम अक्षत गुप्ता की मौत की जांच हो

रुद्रपुर,रामपुर रोड स्थित होटल सोनिया में पूर्व सांसद बलराज पासी ने प्रेस कॉन्फेरेंस कर सी.एम हरीश रावत पर जनता को धोखा देने का आरोप लगाया है।23अक्टूबर को रुद्रपुर में है सी एम हरीश रावत का ट्यूबवेल उद्घाटन कार्यक्रम, ट्यूबवेल का उद्घाटन कर सीएम केंद्र की अमृत योजना का लाभ लेने की कोशिश में हैं। उनका आरोप है कि सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार उत्तराखंड में है।
मुख्यमंत्री रुद्रपुर में जनता को धोखा देने आ रहे हैं।चार साल पहले घोषित चालीस लाख की लागत के एक ट्यूबवेल का सीएम उद्घाटन करने आ रहे हैं। केंद्र सरकार ने118 करोड़ रुपये की अमृत योजना महानगर को दी थी। इस योजना का लाभ मुख्यमंत्री अपने खाते में लेने की कोशिश में हैं। पासी ने खुलासा किया कि पेयजल, जल निकास, पार्क, पार्किंग एवं स्वच्छता के इस योजना के लिए नगर निगम ने केंद्र को प्रस्ताव भेजा था। केंद्र ने इस योजना को स्वीकृ्त करने के साथ ही 3.90 करोड़ रुपये की राशि नगर निगम को अवमुक्त कर दी है। जिससे ट्रांजिट कैंप और रम्पुरा में दो ओवरहेड टैंक लगने हैं। केंद्र की उस योजना को प्रदेश सरकार की बता कर फायदा लेने की कोशिश की जाएगी। पूर्व सांसद का आरोप है कि देहरादून, हरिद्वार नैनीताल और रुद्रपुर में डीएम की पोस्टिंग कलैक्शन के लिए करना बताया। कहा कि खनन, जमीनों और तमाम अवैध तरीकों से वसूली कर सीेएम को दी जाती है। जिसमें उन्होंने विधायक नवप्रभात एवं मंत्री यशपाल आर्या की हिस्सेदारी का आरोप भी लगाया। एक सौ पचास करोड़ की भूमि को खुर्द बुर्द करने तथा डीएम अक्षत गुप्ता की मौत मामले में उन्होंने जांच की जरूरत बताते हुए कहा कि अवैध रूप से वसूली कर न देने पर युवा डीेएम को इतना प्रताडित किया गया कि उनकी मौत हो गई। सीएम के आगमन के विरोध के एक पत्रकार के सवाल पर पूर्व सांसद ने कहा कि सीएम को विरोध का सामना करना पड़ेगा। भाजपा की जिला इकाई इस संबंध में निर्णय करेगी।
मेयर सोनी कोली ने अमृत योजना को विस्तार से बताते हुए प्रदेश सरकार के इसके लाभ के कोशिश को निंदनीय बताया। भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा ने प्रदेश सरकार पर सवाल दागा कि सीएम बताएं कि अमृघ्त योजना को पैसा कहां से आया?  वार्ता में भारत भूषण चुघ, उत्तम दत्ता, ललित राठैर आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *